विश्व ब्राह्मण संघ की राष्ट्रीय कार्यकारिणी सम्मेलन .. 26.06.17

अभिनन्दनीय, प्रेरणा पुरुष,पूज्यपाद पंडित मांगे राम शर्मा जी के कुशल नेतृत्व में दिनांक 26 06 2017 इंडिया इंटरनेशनल सेंटर नई दिल्ली मे आयोजित किया गया ।

पूरे भारतवर्ष के कोने कोने से National Executive Members ने इस सम्मेलन में भारी संख्या में पूरे उत्साह के साथ भाग लिया ।

मुख्य अतिथि डॉ महेश शर्मा, यूनियन मंत्री, भारत सरकार ने कहा कि “वर्ण व्यवस्था आज की बनाई हुई नही है और मैं ब्राह्मण कुल में पैदा हुआ हूँ और समाज की भलाई के लिए सदैव ततपर हूँ । ब्रह्म समाज को जोड़े रखने के उन्होंने कहा कि ब्राह्मण क्योंकि बहुत तारिक बुद्धि रखता है इस लिए विश्लेषण अत्यधिक करता है लेकिन अगर जिस प्रकार हम माता-पिता विश्लेषण नही करते उसी प्रकार हमें अपने महबूब नेताओं का भी विश्लेषण न करके सेना के जनरल के आदेशों की भांति लेना चाहिए और पूरी निष्ठा से उनके बताए रास्ते पर चलना चाहिए । उन्होंने कहा कि श्री मांगे राम शर्मा जी ने ब्राह्मण समाज को एक जुट करने में अपना पूरा जीवन एवं परिवार लगा दिया तथा हम सब को मिल कर उनके बताए सन्मार्ग पर चल कर एकजुट रहना चाहिए ।
सम्मेलन में विशेष अतिथि के रूप में पधारे हरियाणा सरकार के दिग्गज मंत्री श्री राम बिलास शर्मा जी ने आदरणीय श्री मांगे राम शर्मा के साथ के पुराने संस्मरण सांझे किए तथा कहा कि ब्राह्मण समाज ने पूरे विश्व के कल्याण के पुरजोर प्रयास किए हैं लेकिन आज समाज को संगठित होने की आवश्यक्ता है उन्होंने कहा कि वो हरियाणा सरकार से ब्राह्मण बोर्ड़ बनाने के लिए श्री मांगे राम जी के साथ कंधे से कंधा मिला कर कार्य करेंगे । उन्होंने WBF को 5 लाख रुपए का भी योगदान दिया ।

इस अवसर पर विशेष रूप से आमंत्रित बीजेपी राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री सुधांशु त्रिवेदी जी ने कहा कि ब्राह्मण समाज को आरक्षण से इतर मिलने वाले अवसरों का भरपूर फ़ायदा उठाना चाहिए तथा ब्राह्मणों को दरिद्र ब्राह्मण वाली छवि से उभर कर सफ़ल उद्योगपति बनने का प्रयास करना चाहिए ।

WBF के चेयरमैन श्री मांगे राम जी ने कहा कि
हरियाणा सरकार ने ब्राह्मण बोर्ड़ बनाने का अपना वादा पूरा नही किया है उन्होंने यह भी कहा कि वो प्रतिभा का सम्मान करते हैं त्तथा आरक्षण के स्थान पर प्रतिभा के आधार पर नौकरी देने के पक्षधर हैं ।उन्होंने यह भी आह्वान किया कि वे ब्राह्मणों के अधिकारों की लड़ाई के लिए हमेशा संगठन को मजबूत करते रहेंगे । उन्होंने कहा कि ब्राह्मण समाज अपने बच्चों को संस्कारवान बनाए तभी समाज का हित होगा ।
उन्होंने आए दिन पारिवारिक झगड़ों और न्यायलयों तलाक इतियादी के बढ़ रहे मुकदमों पर भी अपनी गहरी चिंता जताई ।

सम्मेलन में अगले तीन वर्ष् के लिए नई कार्यकारिणी का गठन भी किया गया । सुदूर प्रान्तों से आए सभी पदाधिकारियों को ससम्मान नियुक्ति पत्र एवं सरोपा भेंट किए गए ।

कार्यक्रम की कुछ झलकियां आपको प्रेषित…image4 image1 image2 image3

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *